Tuesday, April 23, 2024
Homeराजधानी लखनऊहम मज़दूरों को सुरक्षित पहुंचाने के लिए प्रतिबद्ध : सीएम योगी

हम मज़दूरों को सुरक्षित पहुंचाने के लिए प्रतिबद्ध : सीएम योगी

केन्द्र सरकार द्वारा घोषित आर्थिक पैकेज के अनुसार कार्ययोजना बनाई जाएगी

यूपी में निवेश आकर्षित करने के लिए नियमों को सरल बनाएंगे

प्रवासी श्रमिकों को वृहद स्तर पर रोजगार देने के लिए जलद ही कार्य योजना

LUCKNOW : मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि प्रदेश सरकार प्रवासी श्रमिकों व कामगारों की सकुशल व सुरक्षित वापसी के लिए प्रतिबद्ध है। फील्ड में तैनात अफसर अन्य राज्यों से संवाद बनाकर उत्तर प्रदेश लौट रहे श्रमिकों/कामगारों को श्रमिक एक्सप्रेस अथवा सुरक्षित वाहनों से ही भेजने की व्यवस्था करें। प्रदेश आने वाले प्रत्येक कामगार/श्रमिक को भोजन उपलब्ध कराया जाए।

जगह-जगह पेयजल की व्यवस्था भी सुनिश्चित की जाए। इन्हें क्वारंटीन सेन्टर ले जाकर इनकी मेडिकल स्क्रीनिंग सुनिश्चित की जाए। प्रवासी कामगारों/श्रमिकों को क्वारंटीन सेन्टर में रखने के दौरान ही उनकी स्किलिंग की जाए, ताकि होम क्वारंटीन पूरी होने के बाद प्रदेश में ही इन्हें रोजगार दिलाने के प्रयास अभी से प्रारम्भ किए जा सकें।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि कृषि विभाग के अधिकारी प्रदेश के विभिन्न जनपदों में स्थापित गेहूं क्रय केन्द्रों पर जाकर निरीक्षण करते हुए किसानों की उपज की खरीद में सहयोग करें। उन्होंने कहा कि खाद्य एवं रसद विभाग के अधिकारी पी0डी0एस0 से जुड़ी सभी कोटे की दुकानों का निरीक्षण करें और नागरिकों को राशन उपलब्ध करवाने में सहयोग करें।

सीएम योगी ने कहा कि राज्य सरकार ने प्रदेश के बाॅर्डर पर पहुंचने वाले प्रवासी श्रमिकों के लिए खाने-पीने की व्यवस्था सुनिश्चित की है। उन्हें सुरक्षित घर पहुंचाने की भी व्यवस्था की जा रही है। उन्होंने निर्देश दिए कि अवैध वाहनों जैसे ट्रक, डाला, बाइक, साइकिल इत्यादि का उपयोग कर प्रवासी श्रमिक यात्रा कदापि न करें। उन्होंने कहा कि पुलिस इसे रोके और प्रवासी श्रमिकों को इस सम्बन्ध में जागरूक भी करे, क्योंकि ऐसे साधनों से चलने पर दुर्घटना की सम्भावना रहती है। इसलिए सभी प्रवासी श्रमिक सुरक्षित साधनों जैसे बस अथवा ट्रेन से ही यात्रा करें। उन्होंने पी0आर0वी0 112 को सक्रिय करने के निर्देश दिए और कहा कि पुलिस प्रभावी पेट्रोलिंग सुनिश्चित करे।

मुख्यमंत्री जी ने कहा कि क्वारंटीन सेन्टर व कम्युनिटी किचन में साफ-सफाई सुनिश्चित की जाए। यह सुनिश्चित किया जाए कि कोई व्यक्ति भूखा न सोने पाए। कम्युनिटी किचन से सभी जरूरतमंदों को गर्म व ताजा भोजन उपलब्ध कराया जाए। जरूरतमंदों के लिए पर्याप्त मात्रा में खाद्यान्न की व्यवस्था भी सुनिश्चित की जाए। सभी कोविड अस्पतालों में आवश्यक सुविधाएं उपलब्ध हों और इन अस्पतालों की बेड क्षमता बढ़ाकर 01 लाख बेड की जाए। कोरोना संक्रमण को फैलने से रोकने के लिए गांवों और शहरों में गठित की गई निगरानी समितियों की बहुत बड़ी भूमिका है। इसलिए वे पूरी सक्रियता से कार्य करें।

सीएम योगी ने कहा कि प्रदेश आने वाले प्रवासी श्रमिकों/कामगारों की स्क्रीनिंग की जाए और उन्हें क्वारंटीन किया जाए। उन्होंने प्रवासी श्रमिकों/कामगारों की टेस्टिंग को पूल टेस्टिंग के माध्यम से अविलम्ब प्रारम्भ करने तथा इस क्षमता को आगामी दो-तीन दिन में 10 हजार प्रतिदिन तक ले जाने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि सभी जनपदों मे वेंटीलेटर क्रियाशील किए जाएं। साथ ही, डाॅक्टरों और पैरामेडिक्स को प्रशिक्षित किया जाए। सभी कोविड तथा नाॅन कोविड अस्पतालों में पी0पी0ई0 किट, एन-95 मास्क, सेनिटाइजर सहित अन्य चिकित्सा सुविधाएं मौजूद हों।

अन्य महत्वपूर्ण खबरों के लिए यहां क्लिक करें

Sarkar Today

 

News Desk
News Desk is a human operator who publish news from desktop. Mostly news are from agency. Please contact sarkartoday2016@gmail.com for any issues. Our head office is in Lucknow (UP).
RELATED ARTICLES

Most Popular